eghna Khanduri > Garhwali Brahmin

Jai uttrakhand. …गोपीनाथ मंदिर…
.
गोपीनाथ मंदिर उत्तराखण्ड राज्य के चमोली जिले के गोपेश्वर में स्थित है। गोपीनाथ मंदिर गोपेश्वर ग्राम में है जो अब गोपेश्वर कस्बे का भाग है।गोपीनाथ मंदिर एक प्राचीन मंदिर है जो भगवान शिव को समर्पित है। यह मंदिर अपने वास्तु के कारण अलग से पहचाना जाता है; इसका एक शीर्ष गुम्बद और 30 वर्ग फुट का गर्भगृह है, जिस तक 24द्वारों से पहुँचा जा सकता है।

मंदिर के आसपास टूटी हुई मूर्तियों के अवशेष इस बात का संकेत करते हैं कि प्राचीन समय में यहाँ अन्य भी बहुत से मंदिर थे। मंदिर के आंगन में एक 5 मीटर ऊँचा त्रिशूल है, जो 12 वीं शताब्दी का है और अष्ट धातु का बना है। इस पर नेपाल के राजा अनेकमल्ल, जो 13 वीं शताब्दी में यहाँ शासन करता था, का गुणगान करते अभिलेख हैं। उत्तरकाल में देवनागरी में लिखे चार अभिलेखों में से तीन की गूढ़लिपि का पढ़ा जाना शेष है।

दन्तकथा है कि जब भगवान शिव ने कामदेव को मारने के लिए अपना त्रिशूल फेंका तो वह यहाँ गढ़ गया। त्रिशूल की धातु अभी भी सही स्थित में है जिस पर मौसम प्रभावहीन है और यह एक आश्वर्य है। यह माना जाता है कि शारिरिक बल से इस त्रिशुल को हिलाया भी नहीं जा सकता, जबकि यदि कोई सच्चा भक्त इसे छू भी ले तो इसमें कम्पन होने लगता है।

कोई हटधर्मिता का अर्थ बतायेगा । 

आज के युग में इस शब्द का अर्थ बतायेगा ।

जैसा की आज कल चल रहा है ।

मैं हिन्दू हूँ ।

मैं मुसलमान हूँ।

मैं सिख हूँ ।

मैं ईसाई हूँ ।

आज एक गीत याद आ गया । जगजीत सिंह का ।

“मैं न हिन्दू हूँ न मुसलमान हूँ मुझे जीने दो। “

शहर छोटा और  दुःख बड़े ।

क्या कहूँ ।

शहर छोटा तो दुःख बड़े । 

समझ नहीं आया । पर ज्यादा सोचा तो समझ आया की क्यों पलायन हो रहा है । शहर की तरफ ।

दुःख कहाँ से शुरू होता है ?

 जब कोई बच्चा गलती करता है तो उसे माफ़ कर दिया जाता है । लेकिन वो माफ़ी उसके लिए सबक बन जाता है । इतना ही पढ़ा है। लेकिन वो गलती क्या होती है । उसे समझने के लिए उसे पूरा जीवन लग जाता है ।

वो भागता है शहर की तरफ । फिर कोई नयी गलती । फिर माफ़ी । ये सिलसिला चलता रहता है ।
क्योंकि जब शहर छोटा होता है तो दुःख बड़े हो जाते हैं ।

छोटा शहर बदनाम ज्यादा करता है । और बड़ा शहर शौहरत देता है ।

is it possiable .

when we write in mobile , laptop which is connect the internet and every word store in server. suppose !  after long time server leaked. every word work his potatincial energy.

what is the situation of world.

word is world.

you like this type movie or real.

एक बच्चा ।

एक बच्चा जो उस वक़्त सिर्फ 7 साल का था। उसे उसके माता पिता ने एक उस वक़्त की सबसे अच्छी स्कूल में भेजा था ।

वो स्कूल उस वक़्त की सबसे अच्छी स्कूल थी। वंहा सब कुछ अच्छा पढाया जाता था ।

कहा जाता बच्चों ये आपके आदर्श हैं ।

नेहरू

गाँधी
गाँधी

गाँधी

जिन्ना 
और आज सोशल मीडिया में देखता हूँ । वो सब गुनाह कर के बैठै थे ।

बस अब लगता है की सब बस एक शब्दों का खेल है ।

सच क्या है । बस तलाश में घूम रहा हूँ ।

मोदी विरोधी क्यों।  मेक इन इंडिया

आज सोच रहा था । मेरे ब्लॉग को देख के मैं मोदी जी विरोधी लगता हूँ।
लेकिन मेरी समझ में ये नहीं आया कि मोदी जी डरा रहे हैं या देश को बचा रहे हैं ।

शब्द इस प्रकार हैं ।

एक तरफ तो चायना और पाक ।

पहला देश सबसे मजबूत और दूसरा देश टुकड़ों में पलने वाला।

मगर हम अपनी सिक्योरिटी को पब्लिक मीडिया में क्यों दिखा रहे हैं ।

आर्मी के एक लौ ( कानून ) के अनुसार आप ये सब नहीं कर सकते ।

आज दो पाकी मारे गए ।

आज टैंक ।

आज मेक इन इंडिया ।

चाइनीस फ़ूड विस्तार। 

आज से 12 -13 साल पहले चाइनीज़ फ़ूड के रेस्तरां कुछ सिलेक्टेड जगह पर होते थे । मगर अब 2016 में यह फ़ूड बहुत ज्यादा बढ़ गया है । इतना की जिस गांव की संख्या 100 है । वंहा भी 1- 2 रेस्तरां मिल जायेंगे । यह फ़ूड बहुत तेजी से बढ़ रहा है । 

क्या होगा ।

और कब ।